http://WWW.SAIASTHAJYOTISH.COM
http://WWW.SAIASTHAJYOTISH.COM

Checking delivery availability...

background-sm
Search
3

KAli CHAUDAS POOJA VIDHI

काली चौदस पूजा विधि

Sai Astha Jyotish { 919586560400}

माँ काली

कहते हैं एक औरत जब तक सहती है तब तक सहती है। लेकिन जब उसकी सहने की क्षमता खत्म हो जाती है तब वह काली बन जाती है। पाप का नाश करने वाली भी काली मां है। काली माता से जुड़े कई त्यौहार हैं। जिनमें काली चौदस भी एक है। जैसा कि आप नाम से ही समझ रहे होंगे। काली यानी काला रंग। काला रंग बुराई के नाश का भी प्रतीक है। और चौदस मतलब 14।

काली चौदस

यानी काली चौदस कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है। दिवाली के पांच दिनों के उत्सव का यह दूसरा दिन होता है। इस दिन काली मां की पूजा होती है और यह कहा जाता है कि इस दिन उन्होंने नरकसुरा को मारा था। इसलिए इसे नरक चतुर्दशी, छोटी दिवाली भी कहा जाता है।

काली चौदस

काली चौदस बुराई पर अच्छाई की जीत का भी प्रतीक है। काली चौदस पूजा को भूत पूजा के नाम से भी जाना जाता है। यह पूजा अधिकतर पश्चिमी राज्यों विशेषकर गुजरात में देखी जाती है।आप के जीवन में जो भी घटता है उसके पीछे कोई न कोई वजह होती है।

काली चौदस की पूजा

और उसी तरह आप कोई भी पूजा करते हैं उसका अपना महत्व होता है। ठीक उसी तरह काली चौदस पूजा का भी बहुत महत्व है। इस पूजा को करने से जादू-टोना, बेरोजगारी, बीमारी, शनि दोष, कर्ज़, बिजनेस में हानि जैसी समस्याएं खत्म होती हैं।

काली चौदस पूजा का लाभ

आपको किसी भी पूजा का लाभ तब पहुंचेगा जब आप उसे विधि पूर्वक करें। तो आज हम आपको बता रहें कि काली चौदस पूजा की विधि क्या है? इसे हम कैसे करें कि हमें काली चौदस पूजा के लाभ भी प्राप्त हों।

काली चौदस पूजा सामग्री

प्रत्येक पूजा के लिए उसकी विशेष सामग्री होती है। क्योंकि हर देवता की पूजा अलग तरह से होती है। इसलिए उनकी पूजा करने के लिए सामग्री भी अलग होती है। यदि आप भी काली चौदस पूजा करने जा रहे हैं तो यह सामग्री ज़रूर अपने पास रखें।

काली चौदस पूजा सामग्री

अगरबत्ती, धूप, फूल, काली उरद दाल, गंगा जल, हल्दी, हवन सामग्री, कलश, कपूर, कुमकुम, नारियल, देसी घी, चावल, सुपारी, शंख, पूर्णपतत्र, निरंजन, लकड़ी जलाने के लिए लाइटर, छोटी-छोटी और पतली लकड़ियां, घन्टा(बेल), गुड़, लाल, पीले रंग रंगोली के लिए, कॉटन की बॉल्स आदि सामग्री को इस पूजा में इस्तेमाल की जाती है।

  • 2017-10-18T09:30:03

Other Pages

Home KAli CHAUDAS POOJA VIDHI